Karva Chauth – Celebration of An Eternal Bond

Karva Chauth – Celebration of An Eternal Bond

karwa chouth

What is Karva Chauth & How is it Celebrated? करवा चौथ दिन, समय और मुहूर्त

सनातन धर्म में कई तीज त्यौहार festivals सामाजिक परंपराएं हर्षोल्लास से मनाई जाता है परंतु महिलाओं का मुख्यतः करवा चौथ (karva chauth ) माना जाता है| करवा चौथ कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है| करवा चौथ व्रत सूर्योदय से पूर्व 4:00 बजे के बाद आरंभ होता है वह रात्रि में चांद के दर्शन व उनकी पूजा-अर्चना करने के बाद संपूर्ण होता है| साल 2022 में करवा चौथ व्रत 13 अक्टूबर को मनाया जा रहा है| चंद्र दर्शन करने के बाद व्रत को खोला जाता है| करवा चौथ व्रत में मां पार्वती, देवा दी देव महादेव की पूजा की जाती है एवं रात्रि में चंद्र भगवान की पूजा की जाती है| भगवान शिव व पार्वती माता से यह प्रार्थना की जाती है कि उनका सुहाग सदा अमर रहे व जिंदगी भर सुहागिन रहे|

 

करवा चौथ व्रत मुख्यता सुहागिन महिलाओं द्वारा किया जाता है परंतु कुमारी कन्याओं द्वारा भी इस व्रत को किया जाता है| कुंवारी कन्याओं का अच्छे वर के रूप में पति को पाने के लिए इसको किया जाता है| सुहागिन महिलाएं अपनी पति की लंबी उम्र की कामना करने के लिए अपने वैवाहिक जीवन में सुख पूर्ण जीवन व्यतीत करने के लिए करवा चौथ का उपवास रखती है|आइए हम व्रत की विधि के बारे में जानते हैं सर्वप्रथम सूर्योदय से पूर्व उठकर स्नान आदि कर शरीर को मन को स्वस्थ करें सर्वप्रथम  मंत्र का उच्चारण कर  व्रत का शुभारंभ करते हैं|

मम सुखसौभाग्य पुत्रपौत्रादि सुस्थिर श्री प्राप्तये करक चतुर्थी व्रतमहं करिष्ये.

सुहागिन महिलाएं पूरे दिन निर्जल रहकर शाम को भगवान शिव, पार्वती, चौथ माता के समक्ष पूजा की थाली, करवा को रखकर व्रत का पाठ करती हैं व करवा चौथ की कथा सुनती है| तत्पश्चात पूजा संपन्न कर जब चंद्र भगवान उदित होते हैं तो उनकी आरती की जाती है| पूजा की थाली में मिठाई, फल, फूल, रोली, कुमकुम, अक्षत चढ़ाया जाता है तथा छलनी में दीपक को रख कर भगवान चंद्र को छलनी से देख महिलायें चंद्र भगवान से सुहाग की लंबी उम्र और सुखद परिवारिक जीवन की कामना करती है| उसके बाद छलनी को पति की ओर घुमा कर पति को उसमे देखा जाता है एवं चंद्रमा को भोग लगाया जाता है| उनकी आरती की जाती है, आरती करने के बाद पति को तिलक लगा कर, उनका मुंह मीठा कराया जाता है इसके बाद पति पत्नि को पानी पिलाते हैं उनका मुंह मीठा कराते हैं| पत्नि पति के पैर छूकर उनका आशीर्वाद ले कर उनसे जिंदगी भर सुख दुख में साथ निभाने का वचन लेती हैi शादीशुदा महिलाएं अपनी सास को कुछ उपहार देती हैं और उनसे आशीर्वाद लेतीं हैं | कुंवारी कन्या करवा चौथ की कथा सुन उनकी पूजा अर्चना कर चंद्र दर्शन के बाद पानी को ग्रहण कर व्रत को पूर्ण करती हैं वह अपने माता-पिता का आशीर्वाद लेती है| मन में यह कामना करती हैं कि उन्हें मनचाहा वर प्राप्त हो इस तरह से कुंवारी कन्या व्रत को पूरा करती हैं|

 

Karva Chauth
Karva Chauth

 

करवा चौथ व्रत के लिए टिप्स / Tips for KarvaChauth Vrat: 

ऐसा माना जाता है की इस व्रत की शुरुवात पंजाब राज्य से हुई हालांकि अब करवा चौथ पूरे भारत में मनाया जाता है| इस व्रत को मनोरंजन के क्षेत्रों में भी जैसे बॉलीवुड, सास बहु के सीरियल में इस व्रत को धूमधाम से दर्शाया गया है| कभी खुशी कभी गम , हम दिल दे चुके सनम का गाना “चांद छुपा बादल में” करवा चौथ के व्रत के दृश्यों को बहुत सुंदर तरीके से दर्शाया गया है| करवा चौथ के सूर्योदय से पूर्व सरगी करने की परंपरा है |सास अपनी बहू को सरगी देती है| सरगी में खाने की ऐसी वस्तुओं को उपयोग में लेना चाहिए जो शरीर के लिए काफी शक्ति पूर्वक हो शरीर में पानी की कमी पूरा करता हो और पूरे दिन भर ऊर्जावान बनाकर रखें| ऐसे व्यंजन को सरगी में शामिल करें जैसे कि सेव,अनार, खजूर जिनमे फाइबर की मात्रा पाई जाती है  जो की ताकत देते है और दिन भर ऊर्जावान बनाए रखते है| आप ड्राई फ्रूट्स को भी शामिल करें जैसे बादाम, काजू, अखरोट इन सभी को आप एक उचित मात्रा में ग्रहण करें|

 घर में बने कुछ व्यंजन को भी आप खा सकते हैं जैसे कि दूध से बनी खीर, हलवा, पराठे इन सभी को सरगी में शामिल कर सकते हैं|

 

KarvaChauth Vrat
KarvaChauth Vrat

 

Karva Chauth Gifts करवा चौथ उपहार – अविवाहित लड़कियों, विवाहित महिलाओं, सास के लिए

करवा चौथ के आने की कुछ दिन पहले से ही महिलाएं अपने रूप सौंदर्य का ध्यान रखना शुरु कर देती हैं| महिलाएं उबटन लगाकर अपने चेहरे के निखार को और भी बढाती हैं| महिलाएं पूरा दिन निर्जल व्रत रख अपने अपने पति के लिए इस कठिन व्रत को करती हैं, तो पति के भी मन में उनके लिए कुछ करने की इच्छा उत्पन्न होती है इसलिए पुरुषों को उपहार सबसे अच्छा माध्यम लगता है| करवा चौथ व्रत में बहू भी अपनी सास को भी उपहार देती हैं|

कुछ उपहार जो सुहागिन महिलाओं, कुंवारी कन्याओं को बहुत अधिक पसंद आते है निम्न प्रकार से है-

 

  1. साड़ी व सलवार सूट – सभी भारतीय महिलाओं की पहली पसंद साड़ी होती है| आप उन्हें साड़ी दे कर खुश कर सकते हैं| कुछ महिलाओं का पहनावा सलवार सूट भी होता है जैसे पटियाला सूट, प्लाजो सूट, अनारकली सूट, उपहार में दे सकते हैं| साड़ी खरीदते वक्त इस बात का अवश्य ध्यान देना चाहिए कि उन्हें कौन सा रंग पसंद है या उन पर कौन सा रंग अधिक खिलता है वह रंग की साड़ी उन्हें देनी चाहिए| बहू अपनी सास को तोहफे में सूती की साड़ी दे सकती है क्योंकि बुजुर्ग उम्र की महिलाओं पर सूती की साड़ी बहुत सुंदर लगती है वे अपनी सास को बनारसी साड़ी, भागलपुरी सिल्क साड़ी भी उपहार में दे सकती हैं| यह मार्केट में 1000 रुपए से शुरू होकर 5000 तक के रेंज में आसानी से उपलब्ध होते हैं|

 

भागलपुरी सिल्क साड़ी
भागलपुरी सिल्क साड़ी

 

  1. आभूषण – ऐसा कहा जाता है की महिलाओं का दूसरा प्यार उनका आभूषण होता है| पति अपने पत्नियों को व मंगेतर जिनकी सगाई हुई है वह अपने होने वाली पत्नी को आभूषण देकर surprise कर सकते हैं| वर्तमान समय को देखते हुए पाची कुंदन ज्वेलरी अधिक प्रचलन में है, आप उन्हें पाची कुंदन आभूषण या जिसे जड़ाऊ आभूषण भी कहा जाता है दे सकते हैं| हम आपको कुछ ऐसे आभूषण बताते हैं जिसे देखकर आपकी जीवन साथी का दिल खुशी से झूम उठेगा, जैसे आप उन्हें कानों के बाली, चोकर, neck set, जड़ाऊ कड़े, माथापट्टी, कंगन उपहार में दे सकते हैं| इस प्रकार की ज्वेलरी साड़ी या सूट के साथ bhi पहनकर अपने karva chauth look को और भी सुंदर बना सकती हैं| पाची कुंदन ज्वेलरी  उचित दामों में उपलब्ध है| इसपे लगे हुए कुंदन  उनके रूप के निखार को और भी बढ़ा देगा| यह ज्वेलरी काफी लम्बे समय तक भी चलती है और इनमे आर्टिफीसियल ज्वेलरी के तुलना में दोष आने के संभावना भी बहुत कम होते है| इनका लुक हमेशा हटकर और ट्रेडिशनल होता है, इस टाइप की ज्वेलरी का उपयोग करके आप अपना एक रॉयल लुक बना सकते हो|

 

Choker-Pachi-Kundan
Kundan Choker

 

khammaghani-kundan-necklace
Kundan Necklace

 

  1. फूलों से सजा गुलदस्ता व चॉकलेट – अपने जीवनसाथी के प्रति अपने प्यार को दर्शाने के लिए उनके मन को प्रेम से खुश करने के लिए फूलों से भरा गुलदस्ता एक सटीक उपहार होता है| आप उन्हें गुलाब के फूलों से सजा गुलदस्ता या चमेली अन्य किस्म के फूलों से बना बुके उन्हें दे सकते हैं| बाजारों में आजकल चॉकलेट से बने कई प्रकार के उपहार उचित दामों में भी उपलब्ध है| कोशिश करे की आप अपने जीवनसाथी को उनके मन पसंदीदा चॉकलेट दे|
  2. कुछ हटके – ऐसे कुछ भी जो आपकी वाइफ या मंगेतर लेने की प्लानिंग कर रही हो और आप उन्हें बिना बताये सरप्राइज गिफ्ट देकर भी खुश कर सकते है.

इस त्यौहार को यदि हम प्यार का त्योहार कहे तो गलत नहीं होगा, करवा चौथ (karva chauth ) की हार्दिक शुभकामनाएं|

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Shop
0 Wishlist
0 Cart